Sunday, 1 January 2017


अटल हिन्द की खबर का असर ,पर्वतारोही विक्रम पांचाल को सहायता मिलनी शुरूकैथल 31 दिसम्बर (AHN)आखिरकार 23 दिसम्बर 2016 को अटल हिन्द ने प्रमुखता से प्रकाशित किये समाचार खिलाड़ी  जोखिम उठाते है,आर्थिक मदद नही मिल पाती और मात्र कागजों में मात्र मदद की घोषणा कर रह जाती है  का असर  हो ही गया जिसके चलते देश- प्रदेश में जिला व पाई गांव का नाम रोशन करने वाले पर्वतारोही विक्रम पांचाल  को माउंट एवरैस्ट पर देश की ध्वज तिरंगा लहराने के लिये सहायता मिलनी शुरू हो गई है।  सीवन की सीमा गोस्वामी के बाद यह जिला का वह युवक है, जिसने कई अवार्ड अपने नाम किये है। पिछले वर्ष भी इसके सामने माउंट एवरैस्ट की ऊंची चोटी पर देश की आन बान शान का तिरंगा लहराने का मौका मिला था, परन्तु आर्थिक स्थिति के कारण वह यह मौका गंवा चुका था। अब इसको दुबारा से मौका मिला। जिसको वह हाथ से गंवाना नही चाहता और आर्थिक मदद की गुहार लगाई थी। इसके लिये उसको 25 लाख की जरूरत है। देश का नाम रोशन करने के लिये पूर्व सरपंच कर्ण सिंह द्वारा 1 लाख रुपये, ग्रीन वैली स्कूल के द्वारा 11 हजार रुपये मिल चुके है और अब पाई के सरस्वती सीनियर सैक्ंडऱी स्कूल के द्वारा 21 हजार की सहायता राशि दी गई। स्कूल के प्रधानाचार्य रामपाल ढुल ने यह राशि देते हुये कहां कि विक्रम पांचाल तुम आगे बढ़ों हम तुम्हारे साथ है। उधर गांव के कई गणमान्य व्यक्तियों ने बताया कि वे प्रदेश सरकार से आर्थिक मदद के लिये अपील करेंगे। विदित रहे कि विक्रम पांचाल ने कन्याकुमारी से लेहलद्याख तक लगभग साढ़े 4 हजार किलोमीटर की यात्रा साइकिल पर 39 दिनों में पूरी करके राष्ट्रीय रिकार्ड बनाया है। इसके बाद विक्रम ने समुंद्र की 800 फीट गहराई में जाकर देश का तिरंगा फहराया था।

Post a Comment