Thursday, 22 December 2016

बेटी बिना घर का आंगन सूना:सविता

बेटी बिना घर का आंगन सूना:सविता
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत किया नवजात बेटियों को सम्मानित
बाबैन 22 दिसम्बर -महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बाबैन में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत समारोह आयोजित करके 5 नवजात बेटियों का जन्मौत्सव मनाया गया। इस कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई। 
जिला संरक्षण अधिकारी सविता राणा ने कार्यक्रम में बोलते हुए बताया कि बेटी के बिना घर का आंगन सूना है। बिना बेटी के कोई भी परिवार पूरा नहीं हो सकता है। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत वीरवार को बाबैन में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में नवजात कन्याओं का जन्मौत्सव मनाया गया और केक भी काटा गया। इस कार्यक्रम में मेहंदी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। इस अवसर पर जन सम्पर्क विभाग के कलाकारों ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए गीत प्रस्तुत किए तथा गीतों के माध्यम से हरियाणा सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। इस कार्यक्रम में नवजात बेटियों व उनकी माताओं को सम्मानित किया गया।
सीडीपीओ सुखवंत कौर ने कहा कि बेटी समाज के लिए अभिशाप नहीं है। समाज में बेटी का सम्मान हो इसके लिए हरियाणा सरकार द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है। बेटी के बिना कोई भी परिवार पूरा नहीं हो सकता, आज की बेटी कल की बहु व सास बनकर परिवार को सम्भालती है। यदि बेटी ही नहीं होगी तो आगे वंश कैसे बढ़ेगा। समाज में बेटी बोझ न हो इसके लिए हरियाणा सरकार ने बेटियों की शिक्षा के लिए कई सौगाते दी है। बेटियों के लिए बसों में 150 किलोमीटर तक प्रतिदिन मुफ्त बस सेवा देने की घोषणा की गई है। सरकार की इस घोषणा से हजारों बेटियों को अपने घर से शिक्षण संस्थानों तक जाने में मुफ्त बस सुविधा का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार इस योजना से परिवार पर बेटी की और से कोई आर्थिक बोझ भी नहीं पड़ेगा। इतना ही नहीं सरकार द्वारा शिक्षा से लेकर शादी होने तक बेटियों को आर्थिक लाभ दिया जा रहा है। 
उन्होंने कहा कि आज के कार्यक्रम में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं अभियान के तहत नवजात बेटियों व उनकी माताओं को कन्या जन्मौत्सव मनाकर सम्मानित किया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी दी। गांव के सरपंच विश्वजीत ङ्क्षबदल ने अतिथियों का स्वागत किया तथा नन्ही बच्चियों व उनकी माताओं को बधाई दी। कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग से डा. सुनीता शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाई योजनाओं के बारे में जानकारी। इस कार्यक्रम में मंच का संचालन ड्रामा निरीक्षक गुलाब सिंह ने किया। इस मौके पर बाल सरंक्षण अधिकारी इंदू राणा, सुपरवाईजर कुसुम काम्बोज, समाजसेवी डा. दीपक देवगण सहित गांव के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
Post a Comment