Thursday, 30 March 2017

कोर्ट परिसर में अंधाधुंध फायरिंग, एक की मौत व वकील सहित सात घायल

RAJKUMAR AGGARWAL


कोर्ट परिसर में अंधाधुंध फायरिंग, एक की मौत व वकील सहित सात घायल
रोहतक। रोहतक कोर्ट परिसर गेट के ठीक बाहर मंगलवार को हिस्ट्री शीटर रमेश लोहार पर कुछ लोगों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। लगभग 15 राउंड फायर किए गए, जिसमें 7 लोग घायल हो गए,जबकि हिस्ट्री शीटर के एक साथी की गोली लगने से मौत हो गई है। बता दें कि रमेश को एक केस में सुनवाई के लिए उसे कोर्ट लाया गया था। घायलों को रोहतक पीजीआइ में भर्ती कराया गया है। घटना लगभग 11 बजे की है। बताया जा रहा है कि कोर्ट में सुनवाई के बाद जैसे ही रमेश लोहार जाने लगा तो महिलाओं के कपड़े पहने दो हमलावरों ने फायरिंग शुरू कर दी। लगभग 15 राउंड फायर किए और बाइक पर सवार होकर फरार हो गए। फायरिंग में रमेश लोहार घायल है, उसे गोली लगी है, जबकि उसके दोस्त संजीत की गोली लगने से मौत हो गई।वहीं बोहर गांव का रमेश, वकील मंजीत यादव, खेड़ी साद गांव का दीपक, यूपी का सुंदर, डंबल और एक नाबालिग भी गोली लगने से घायल है। घटना में एक वकील और विभिन्न मामलों में पेशी पर आए छह लोग घायल हो गए। हमले में घायल रमेश नांदल नामक व्यक्ति की हालत नाजुक है। बताया जाता है कि उसे नौ गोलियां लगी हैं। रमेश नादंल भी कुख्यात अपराधी बताया जात है। समझा जाता है कि हमला गैंगस्टर रमेश लोहार पर किया गया था,लेकिन हमलावार उसे ठीक से पहचानते नहीं थे और गलतफहमी में उन्होंने रमेश नांदल को निशाना सबसे पहले निशाना बनाया।हमले में उत्तर प्रदेश के बागपत के ड़ुंगरपुर का सुंदर,वकील मंजीत यादव,लाढोत्त गांव के डबल, खेड़ीसाध गांव के दीपक और बोहर गांव सोनू घायल हैं। पुलिस ने पूरे क्षेत्र की नाकेबंदी कर दी है और हमलावरों को पकडऩे की कोशिश की जा रही है। घटना से पूरे शहर मेे दहशत है। पूरे क्षेत्र को पुलिस ने घेर लिया है और हमलावरों की तलाश की जा रही है। इससे दिन पहले झज्जर की अदालत के परिसर में भी फायरिंग हुई थी। इस घटना से हरियाणा में अदालतों में सुरक्षा व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। बताया जाता है कि यह घटना कुख्यात रमेश लोहार और नरेश काला के गैंग के बीच दुश्मनी का नतीजा बताई जा रही है। रमेश लोहार काफी समय से जेल में बंद है और मंगलवार को पेशी के लिए उसे रोहतक अदालत में लाया गया था। रमेश लोहर रोहतक जिले के ही गांव बोहर का रहने वाला है। उसकी गांव के ही नरेश काला के साथ पुरानी दुश्मनी है। शक जताया जा रहा है कि काला के गिरोह ने इसी कारण उस पर हमला किया है। रमेश लोहार और काला पर हरियाणा और दिल्ली के विभिन्न पुलिस थानों में मामले दर्ज हैं। रमेश के खिलाफ नौ आपराधिक मामले दर्ज हैं।
केस की सुनवाई में आया था रमेश लोहार
रमेश लोहर रोहतक के गांव बोहर का रहने वाला है। गांव के नरेश काला के साथ उसकी पुरानी दुश्मनी है, वहीं हरियाणा और दिल्ली के विभिन्न पुलिस थानों में रमेश के खिलाफ 9 आपराधिक मामले दर्ज हैं। दरअसल मई 2013 में रोहतक की पुरानी शुगर मिल के पास हरियाणा व दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने रमेश के कार्यालय पर दबिश दी थी। इसी दौरान कार्यालय में मौजूद युवकों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी थी। मुठभेड़ में एक जवान के पैर में भी गोली लगी थी। इसके बाद शिवाजी कॉलोनी पुलिस स्टेशन में केस दर्ज हुआ था।
इसी केस की सुनवाई पर रमेश लोहार अपने साथियों के साथ पेशी के लिए आया हुआ था। करीब 11 बजे पेशी के बाद रमेश वापस जाने लगा तो कोर्ट परिसर के मुख्य गेट के सामने दो युवकों ने उसे निशाना बनाकर फायरिंग शुरू कर दी। एसपी पंकज नैन का कहना है कि पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है। घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी लगे हुए थे, पुलिस उनकी जांच कर रही है। मामले में कार्रवाई की जा रही है।
Post a Comment