Monday, 8 January 2018

Rajkumar Aggarwal

लोहारू-दादरी रोड पर निजी स्कूलों की दो बसें टकराई : करीब आधा दर्जन बच्चे हुए चोटिल
बीईओ की शिकायत पर दोनों स्कूल संचालकों व चालकों के खिलाफ मामला दर्ज

लोहारू, 8 जनवरी
लोहारू-दादरी सडक़ मार्ग पर आज सुबह बसीरवास गांव के बस अड्डे के नजदीक निजी स्कूलों की दो बसें आपस में टकरा गई जिससे कि करीब आधा दर्जन बच्चों के चोटिल होने की खबर है। लोहारू पुलिस ने खंड शिक्षा अधिकारी की शिकायत पर दोनों स्कूलों के संचालकों व बस चालकों के खिलाफ धारा 279, 336 व 188 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दुर्घटनाग्रस्त हुई एक बस परटिया ताल स्थित निजी स्कूल की थी जो कि बच्चों को लेने जा रही थी जबकि लोहारू स्थित एक निजी विद्यालय की बस बच्चों को घरों से लेकर आ रही थी तभी बसीरवास मोड़ के पास उक्त हादसा हुआ। हादसे के बाद शिक्षा विभाग के अधिकारी भ्ी एक्सन मोड में नजर आए और जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश शर्मा ने खंड शिक्षा अधिकारी शक्तिपाल आर्य के साथ विभिन्न निजी स्कूलों का दौरा किया और सुनिश्चित किया कि कोई भी स्कूल खुला न रहे। उपरोक्त मामले में दोनों में से किसी भी स्कूल संचालक का पक्ष सामने नहीं आया है।
यहां गौरतलब होगा कि शिक्षा विभाग द्वारा आदेश जारी कर सभी सरकारी, निजी व सहायता प्राप्त विद्यालयों के लिए 24 दिसंबर 2017 से लेकर 8 जनवरी 2018 तक शीतकालीन अवकाश घोषित किया गया था जिसे कि कड़ाके की ठंड और धुंध को देखते हुए 14 जनवरी तक बढा दिया गया है। सरकार ने प्रदेश में स्थित सभी स्कूलों के लिए उक्त आदेशों की कड़ाई से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए थे। बावजूद इसके कई निजी स्कूल नियमों को ठेंगा दिखाते हुए लगातार खुले रहे हैं। सर्दी जनित बीमारियों के प्रकोप और धुंध की वजह से हो रहे हादसों के बावजूद स्कूलों का खुला रहना जहां स्कूल संचालकों के असंवेदनशील रवैये को दर्शाता है वहीं सरकारी आदेशों की पालना सुनिश्चित करवाने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों की उदासीनता और वास्तविकता की ओर से आंखें बंद करके बैठने की प्रवृति भी कम चिंतनीय नहीं है।
जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश शर्मा ने बताया कि शिक्षा विभाग द्वारा आदेश जारी कर  सभी सरकारी, निजी व सहायता प्राप्त विद्यालयों के लिए 24 दिसंबर 2017 से लेकर 8 जनवरी 2018 तक शीतकालीन अवकाश घोषित किया गया था जिसे कि कड़ाके की ठंड और धुंध को देखते हुए 14 जनवरी तक बढा दिया गया है। उन्होंने बताया कि सभी सरकारी, निजी व सहायता प्राप्त स्कूलों को ई-मेल, फोन व बैठक में निजी तौर पर उक्त आदेशों बारे सूचित व पालनार्थ निर्देशित किया गया था। डीईओ ने बताया कि जिन दो निजी स्कूलों की बसें आज आपस में टकराई हैं उन स्कूलों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई करने हेतु थाना प्रभारी को लिखा गया है। उन्होंने बताया कि स्कूल बसों के साथ होने वाले हादसों का एक बड़ा कारण पुरानी बसों के परमिट का साल दर साल नवीनीकरण करना भी है। उन्होंने कहा कि खटारा हो चुकी बसों के परमिट का नवीनीकरण नहीं किया जाना चाहिए।
थाना प्रभारी प्रकाशचंद ने बताया कि आज सुबह बसीरवास गांव के पास दो निजी स्कूलों की बसें आपस में टकरा गई। शिक्षा विभाग की ओर से पुलिस को शिकायत मिली थी जिस पर कार्रवाई करते हुए दोनों स्कूल संचालकों व बस चालकों के खिलाफ धारा 279, 336 व 188 के तहत मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है। हादसे में कितने बच्चे घायल हुए हैं इस सवाल पर थाना प्रभारी ने बताया कि बच्चों को चोटें लगी हैं और अभी जांच जारी है।
Post a Comment